Articles by "Cricket"

2019 4G LTE 4G VoLTE 5G 7th Pay Commission Aadhaar Actor Wallpapers Actress Wallpaper Adriana Lima AdSense Ahoi Ashtami Airtel Akshay Kumar Alcatel Alexa Rank Amazon Android Android Pie Android Q Anna university Antivirus Anushka Sharma Apple Apps Army Army App Asus Athletics Auto Auto Insurance Avengers Axis Bank Bajaj Bang Bang Reloaded Bank Battery Bhai Dooj Katha Bharti Bhumi Pednekar Big Bazaar Bing BlackBerry Blogger BlogSpot Bluetooth BoB Bollywood Boot Boxing Browser Bsnl Budget Budhvar Business buy Camera Car Car Loan Cash Celebrity CEO Chandra Grahan Channels Chhath chrome Comparisons Computer Coolpad Credit Cricket Crime Deepika Padukone Defence Detel Dhanteras Diamond Crypto Diwali DNS setting Domain Donate Doogee DTH DTH Activation DTH Installation DTH Plans in India Dusshera Earn Money Education Electronics Email Entertinment Ex-serviceman Extensions Facebook Festivals Flipkart Foldable Smartphone Food Funny Gadgets Galaxy Galaxy S8 Game Ganesh ganesh chaturthi Gionee Gmail God Google Google + Google Assistant Google Drive Google Duo Google Pixel Google Tez Google Voice Govardhan Puja GST GTA Guide Guruvar Hamraaz hamraaz app hamraaz app download hamraaz army hamraaz army app hamraaz army app download Hamraaz Army App version 6 Apk Happy New Year Hariyali Teej Hartalika Teej Harvard University HDFC Bank Headphones Health Heena Sidhu Hello App Help Hindi History Hockey Holi Katha Hollywood Home Loan Honor HostGator Hosting Hrithik Roshan HTC Huawei humraaz app iBall IBM ICICI Bank Idea India indian army app Infinix InFocus Information Infosys Instagram Insurance Intel Internet Intex Mobile iPad iPhone iPhone 8 IPL IRCTC iVoomi Janmashtami Javascript JBL Jio Jio GigaFiber JioRail JioSaavn Jokes Karbonn Kareena Kapoor Kartik Purnima Karva Chauth Karwa Chauth Kasam Tere Pyaar Ki Katrina Kaif Kendall Jenner Kimbho Kodak Kumkum Bhagya Landline Laptop Lava Lenovo LET LG Library of Congress Lifestyle Linkedin Lisa Haydon Loans Macbook Maha Shivratri Map Market Mary Kom Massachusetts Institute of Technology Meizu Messages Mi Micromax Microsoft Mobile Mokshada Ekadashi Money Motorcycles Motorola Movie Music Narendra Modi Narsingh Jayanti Nature Naukri Navratri Netflix Network News Nexus Nia Sharma Nokia Notifications OBC Ocean Office Offrs OMG OnePlus Online Opera Oppo Oreo Android Orkut OS OxygenOS Padmavati PagalWorld PAN Panasonic Passwords Patanjali Pay Payment Paypal Paytm PC PDF Pendrive Personal Loan Phone Photo PHP Pixel Plan PNB Bank PNR Poco Poster PPC Pradosh Pragya Jaiswal Prepaid Princeton University Printer Priyanka Chopra PUBG Qualcomm Quora Quotes Race 3 Railway Rambha Tritiya Vrat Realme Recruitment Redmi Relationship Religious Restore Results Review Rule Sai Dharam Tej Saina Nehwal Salman Khan Samsung Sanusha Sawan Somvar Vrat SBI Bank Script Sell SEO Serial Server Shahid Kapoor Shanivar Sharad Poornima Sharp Shiv Shreyasi Singh Shruti Haasan Sim Smart Android TV Smartphones Snapchat Social Software Somvar Sonakshi Sinha Sonam Kapoor Soney Songs Sony Xperia Space Speakers Specifications Sports Sql Stanford University State Bank of India Stickers Story Sunny Leone Surabhi Sushant Singh Rajput Swadeshi Tax Tech Technology Tecno Telugu Tiger Shroff Tiger Zinda Hai Tips Tollywood Tool Top Trending People Trading Trai TRAI Rules for cable TV Trailer Trends Truecaller Tubelight Tulsi Vivah Tv Twitter Typing Uber University of Oxford UP Board Update USB Vacancies Valentines Day Verizon Vertu Video Vijayadashami Virat Kohli Virgin Visas Vivo Vodafone VPN Vrat Katha Vrat Vidhi Wallpaper War Wayback Machine WhatsApp Wi-Fi Windows Windows 10 Wipro Wireless WordPress workstation WWE Xiaomi Xiaomi Mi 6 Yeh Hai Mohabbatein Yo Yo Honey Singh Yoga YotaPhone YouTube ZTE
Showing posts with label Cricket. Show all posts

I once asked Tiger Pataudi how tough was it to captain India. He thought for a moment, then replied with a mischievous smile: Depends on how much you wanted to complicate it. That was typical of Tiger, someone who believed in keeping things simple.

When I posed the same question to Raj Singh Dungarpur, another stalwart, his response was completely different. Captaining the Indian cricket team, he said with dramatic exaggeration, is very difficult -- it is the second toughest job in India.
Why Virat Kohli is world’s busiest captain
Why Virat Kohli is world’s busiest captain

Why Virat Kohli is world’s busiest captain

That is a bit of a stretch but captaining India is challenging. The job extends beyond cricket, there is relentless scrutiny and every move of the captain is played out in full public glare. As the ‘face’ of Indian cricket, the skipper must take on heavy workload to meet the expectations of passionate fans.

Captain Virat Kohli, like his worthy predecessors and all Test captains, is responsible for delivering on-field results but unlike Jason Holder or Hamilton Masakadza (Zimbabwe), he is regularly dragged into other activities. Virat takes a call on yo-yo tests (yardstick for fitness), decides team culture, works on a long-term vision for Indian cricket and pushes for better wages. He is part of the team selection and, going by recent experience, has a say in appointing the coach/support staff.

Elsewhere, these matters are handled by professionals but in India, the bandwidth of the Indian captain is badly comprised. England has a Director Cricket (Andrew Strauss till recently) , a football style supremo with a veto over captain Joe Root and head coach Trevor Bayliss .

Ideally, the Director Cricket, or a High Performance Manager, should decide if Bhuvneshwar Kumar or Jasprit Bumrah need a break, whether MS Dhoni should play Vijay Hazare Trophy or Cheteshwar Pujara/Ishant Sharma would benefit from a stint in county cricket.

Sadly, without this robust support structure, the Indian captain has to step in and get his hands dirty. Kohli is hopelessly overburdened and forced to become a multitasking all-rounder -- player, leader, selector, Director Cricket -- all rolled into one.

It only happens in India that the captain dives deep into technicalities (match scheduling, practice games, quality of net bowlers); player welfare matters (contracts, match fees, allowances) or peripherals (travel clothing, size of suitcase, dress code).

Usually, the Players’ Association does all this but India is the only major cricketing nation without a players’ body. The BCCI is opposed to a trade union of players which could bargain aggressively and, in an interesting twist, neither are top players keen on uniting on one platform. The present arrangement works for both: BCCI happily accommodates top players, and Team India knows it can get what they want.

Some feel powerful Indian captains should leverage their influence to advance cricket and strive for ‘common good’. A contrary view suggests players should focus on playing and leave reform to the BCCI and the Supreme Court.

The Indian captain operates in a unique ecosystem that is chaotic and confusing. Kohli may not hold the second toughest job in India but he is certainly the busiest Test captain in world cricket .

October 25, 2018 ,
Smriti Mandhana takes Women’s World Cup by storm
Each time Smriti Mandhana walks into the 22 yards there is a certain buzz surrounding the 20-year-old classy left-handed batsman. It is the excitement and the anticipation that she generates which makes her such an exciting player to watch. However, her road to the ICC Women’s World Cup this year has been a turbulent ride – from being sidelined due to an injury to finally making the cut in the nick of time. But for those following the game, Mandhana’s talent isn’t a bolt from the blue. Ever since she recorded her maiden ODI hundred against Australia in early 2016, there has been a lot of chatter regarding her talent among pundits. She was tipped to be the next big thing in Indian women’s cricket. And it is now that at the biggest stage that she has truly come of age and is setting the World Cup alight with her fireworks.
India has played two matches so far in the Women’s World Cup. and in both the matches Mandhana has grabbed eyeballs with match-winning innings of 90 and 106 respectively. In both her innings she has displayed a mix of caution and aggression and shown maturity beyond her age. The best aspect about her batting is the way she has composed them by first playing the ball by its merit and later on taking the attack to the bowlers. Mandhana’s fine blend of youth and fearless aggression has set her apart from the others and has given the Indian side a much-needed impetus at the top of the order.
It may be recalled here that Mandhana’s spot in the World Cup wasn’t secured as he had suffered an injury (in WBBL) and was ruled out of action for almost six months. However, she finally made the cut at the last moment and is reaping the faith shown by the selectors in heaps.
After her hundred against the West Indies, Mandhana became the fifth Indian player to score more than one ODI 100. The others to do so are Mithali Raj, Harmanpreet Kaur, Thirush Kamini and Jaya Sharma.
However, Mandhana’s rise to the top has been anything but easy. From being selected for the Maharashtra’s Under-15 state team at the age of nine to considering leaving cricket to pursue academics, she has seen it all. Thankfully her parents stood by her and encouraged her to pursue her passion of playing cricket and finally, on the tour to England and Australia she showed the skills that she possesses and kept hitting the right notes.
Mandhana, who hails from Sangli, a town in Maharashtra also made history last year when she became the only Indian cricketer to be named in the first ever ICC Women’s Team of the Year 2016.

October 24, 2018 , ,
ये हैं धौनी के जीवन से जुड़ी 36 खास बातें, फिल्म में भी नहीं थी कुछ चीजें
1. महेंद्र सिंह धौनी का जन्म पान सिंह और देवकी देवी के घर हुआ था। वो मूल रूप से उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले के हैं, लेकिन पिता पान सिंह की नौकरी के चलते उनका परिवार उत्तराखंड से रांची पलायन कर गया था। उनका एक भाई (नरेंद्र) और एक बहन (जयंती) हैं।

2. धौनी की खेल में दिलचस्पी फुटबॉल व बैडमिंटन से शुरू हुई थी। फुटबॉल में वो स्कूल टीम के गोलकीपर भी थे, लेकिन कम उम्र में स्कूल के स्पोर्ट्स टीचर केशव रंजन बेनर्जी ने उनकी प्रतिभा को पहचान लिया। क्रिकेट टीम में विकेटकीपर की गैरमौजूदगी में बेनर्जी ने धौनी को इसके लिए तैयार किया और उसके बाद माही ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

3. 1997-98 में वीनू मांकड़ ट्रॉफी अंडर-16 चैंपियनशिप धौनी के क्रिकेट करियर का पहला बड़ा पल था। उस टूर्नामेंट में अच्छे प्रदर्शन ने उन्हें स्थानीय क्रिकेट सर्किट में एक चर्चित नाम बना दिया था। दसवीं कक्षा पास करने के बाद धौनी ने पूरी तरह से क्रिकेट पर ध्यान देना शुरू कर दिया था।

4. धौनी के करियर में 1999-2000 की कूच बिहार ट्रॉफी की काफी चर्चा होती है। उस टूर्नामेंट के फाइनल में धौनी और युवराज सिंह पहली बार आमने-सामने आए थे। बिहार अंडर-19 टीम की तरफ से खेलते हुए धौनी ने पहली पारी में 84 रन बनाए थे, जबकि उनकी टीम 357 रन बनाकर ऑलआउट हो गई थी। जवाब में पंजाब टीम के कप्तान युवराज सिंह ने अकेले ही बिहार की पूरी टीम से ज्यादा रन बना दिए थे। युवी ने 404 गेंदों पर 358 रन बनाए थे। पंजाब की टीम ने 5 विकेट पर 839 रन का विशाल स्कोर खड़ा कर दिया था।

5. धौनी ने रणजी ट्रॉफी के जरिए प्रथम श्रेणी क्रिकेट करियर की शुरुआत भी 1999-2000 के सत्र में की थी। अपने पहले ही मैच में असम के खिलाफ 18 वर्षीय धौनी ने नाबाद 68 रनों की पारी खेलकर सबका ध्यान अपनी ओर खींचा था।

6. उनके क्रिकेट करियर के दौरान एक ऐसा मोड़ भी आया था जब वो असमंजस में पड़ गए थे। 2001 से 2003 के बीच उन कुछ सालों में धौनी ने खड़गपुर रेलवे स्टेशन पर टीटी की नौकरी भी की।

7. धौनी ने इस बीच अपने क्रिकेट करियर को खड़ा करने के लिए टेनिस बॉल क्रिकेट तक खेला, जिस दौरान अपने दोस्त से सीखा हुआ उनका चर्चित हेलीकॉप्टर शॉट पहली बार फैंस ने देखा।

8. 2003-04 के देवधर ट्रॉफी में धौनी ने ऐसा धमाल मचाया था कि वो छा गए। उन्होंने 4 मैचों में 244 रन बनाकर चयनकर्ताओं का ध्यान अपनी ओर खींच लिया था।

9. बीसीसीआइ द्वारा छोटे शहरों में प्रतिभा ढूंढने वाली टीआरडब्ल्यू नाम की एक यूनिट गठित की गई थी। इस यूनिट के प्रकाश पोद्दार ने 2003 में धौनी को झारखंड के लिए खेलते देखा और वो उनके कायल हो गए। उन्होंने इसकी जानकारी राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में दे दी।
10. 2003-04 के घरेलू वनडे टूर्नामेंट में धौनी ने इतना धमाल मचाया कि उन्हें सीधे इंडिया-ए टीम में चुन लिया गया। वो उस टीम के साथ जिंबाब्वे और केन्या के दौरे पर गए। 

11. जिंबाब्वे में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद जब इंडिया-ए टीम केन्या पहुंची तो वहां त्रिकोणीय वनडे सीरीज में केन्या के अलावा पाकिस्तान की जूनियर टीम भी मौजूद थी। धौनी ने इस टूर्नामेंट की छह पारियों में 362 रन बनाकर भारतीय कप्तान सौरव गांगुली का ध्यान पहली बार अपनी तरफ खींचा था।

12. 2000 की शुरुआत से लेकर विश्व कप 2007 के बीच भारतीय क्रिकेट टीम ने दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ को विकेटकीपर के रूप में आजमाया था और कई सालों तक उन्हीं से काम चलाया गया। इसी दौरान जब एक विशेषज्ञ विकेटकीपर-बल्लेबाज की जरूरत महसूस हुई तो धौनी के लिए रास्ता खुला।

13. धौनी को पहली बार 2004-05 के बांग्लादेश दौरे के लिए वनडे टीम में शामिल किया गया। यहां बेहद खराब शुरुआत हुई। वो पहले ही मैच में शून्य पर आउट हो गए।

14. खराब शुरुआत के बावजूद भारतीय कप्तान ने उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए चुनने की इच्छा जताई। धौनी ने इस टूर्नामेंट के दूसरे ही मैच में विशाखापट्टनम के मैदान पर पाक के खिलाफ 123 गेंदों पर 148 रनों की धुआंधार पारी खेल डाली। ये किसी भी भारतीय विकेटकीपर द्वारा सबसे बड़ा स्कोर था।

15. श्रीलंका के खिलाफ 2005 की वनडे सीरीज में धौनी का आक्रामक रूप एक बार फिर दिखा जब जयपुर में उन्होंने 145 गेंदों पर नाबाद 183 रनों की धुआंधार पारी खेलकर टीम इंडिया को जीत दिलाई। ये उनका वनडे का सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। उसी साल वनडे क्रिकेट में दिनेश कार्तिक के खराब प्रदर्शन के बाद टेस्ट टीम में भी उनको जगह मिल गई।

16. लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाले धौनी अप्रैल 2006 में तब एक बार फिर सुर्खियों में छा गए जब बल्लेबाजों की आइसीसी वनडे रैंकिंग्स में उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज रिकी पोंटिंग को पीछे छोड़कर शीर्ष स्थान हासिल किया। हालांकि ये स्थान एडम गिलक्रिस्ट ने एक हफ्ते बाद उनसे छीन लिया था।

17. माही को लगातार अच्छे प्रदर्शन के आधार पर पहली बार विश्व कप टीम में शामिल किया गया। ये मौका था वेस्टइंडीज में 2007 विश्व कप का।

18. टीम इंडिया 2007 विश्व कप में बांग्लादेश के खिलाफ हार गई थी। बाद में भारतीय टीम को पहले ही राउंड में बाहर का रास्ता देखना पड़ा था। इसका गुस्सा भारत में दिखा और फैंस ने रांची में उनके घर को नुकसान पहुंचाने का प्रयास किया।

19. धौनी को 2007 में पहली बार वनडे टीम का उपकप्तान बनाया गया और उसी साल जून में उन्हें पहली बार बीसीसीआइ ने ग्रेड-ए का अनुबंध दिया।

20. धौनी को 2007 में पहले टी20 विश्व कप के लिए भारत का कप्तान बनाया गया। सचिन, गांगुली और द्रविड़ जैसे दिग्गजों ने टी20 न खेलने का फैसला लिया था और युवराज ने कप्तान बनने से इनकार कर दिया था। भारत ने ये विश्व कप जीतकर इतिहास रचा और लंबे बालों वाले धौनी दुनिया में छा गए।

21. सितंबर 2007 में ही उन्हें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान वनडे टीम का कप्तान बनाया गया जबकि अगले साल नवंबर में कुंबले के संन्यास के बाद उन्हें पूर्ण रूप से तीनों फॉर्मेट में भारत का कप्तान घोषित कर दिया गया। इसके अगले साल यानी 2009 में भारत ने उन्हीं की कप्तानी में आइसीसी टेस्ट रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल किया।

22. 2011 में भारतीय टीम ने उन्हीं की कप्तानी में वनडे विश्व कप जीता। धौनी ने फाइनल में मैच जिताऊ पारी खेली और छक्के के साथ देश का 28 साल का इंतजार खत्म किया।

23. साल 2013 में धौनी की कप्तानी में भारत ने वो खिताब भी जीत लिया जिसकी कसर बाकी थी। ये खिताब था आइसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का।

24. मार्च 2013 में धौनी ने सौरव गांगुली के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ते हुए सबसे सफल भारतीय टेस्ट कप्तान बनने का गौरव हासिल किया। गांगुली की कप्तानी में भारत ने 49 टेस्ट में से 21 में जीत दर्ज की थी। यही नहीं, 2016 में रिकी पोंटिंग को पीछे छोड़ते हुए वो सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय मैचों में कप्तानी करने वाले खिलाड़ी भी बन गए। 

25. दिसंबर 2014 में धौनी ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर अपने व टीम के ढलते प्रदर्शन को देखते हुए अचानक सीरीज के बीच में टेस्ट से संन्यास की घोषणा कर दी। ये जिम्मेदारी उसी समय विराट को सौंप दी गई थी।

26. जनवरी 2017 में धौनी ने अचानक वनडे व टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने का फैसला किया। इसके साथ ही विराट कोहली तीनों फॉर्मेट के कप्तान बन गए।

27. आइपीएल में धौनी शुरुआत (2008) से ही चेन्नई सुपरकिंग्स टीम के कप्तान रहे और उनकी कप्तानी में चेन्नई ने 2010 और 2011 में आइपीएल का खिताब, जबकि 2010 और 2014 में चैंपियंस लीग टी20 के खिताब जीते। चेन्नई की टीम दो सालों के लिए निलंबित होने के बाद वो पुणे की टीम के कप्तान बने। फिर 2017 सीजन में अचानक उन्हें कप्तानी से हटा दिया गया। हालांकि इस टीम के साथ भी वो आइपीएल खिताब जीतने में सफल रहे।

28. 2011 विश्व कप जीत के बाद फोर्ब्स पत्रिका ने धौनी को दुनिया के सबसे अमीर खिलाड़ियों की सूची में 28वें पायदान पर रखा था। वो 28 मिलियन डॉलर की सालाना कमाई के साथ उस समय क्रिकेट इतिहास के सबसे अमीर खिलाड़ी बने थे। फिलहाल ताजा आंकड़ों के मुताबिक विराट कोहली ने उन्हें पीछे छोड़ दिया है और अब तकरीबन 20 मिलियन डॉलर की कमाई के साथ दुनिया के दूसरे सबसे अमीर क्रिकेटर हैं।

29. धौनी ने 2010 में अपने जन्मदिन से ठीक तीन दिन पहले अचानक देहरादून की साक्षी रावत से शादी कर ली। सबको इन दोनों की नजदीकियों की खबर तो थी लेकिन धौनी ने 3 जुलाई को सगाई की जबकि फटाफट अगले दिन ही शादी करके सबको चौंका दिया था। उन्होंने अपनी शादी में सिर्फ कुछ करीबी लोगों को बुलाया जिसमें क्रिकेटर आरपी सिंह और बॉलीवुड स्टार जॉन अब्राहम भी शामिल थे।

30. धौनी शुरुआत से जॉन अब्राहम के फैन थे और यही वजह थी कि उन्होंने शुरुआत में लंबे बाल रखे हुए थे। बाद में धौनी और जॉन अच्छे दोस्त बन गए और देखते-देखते दोनों ने लंबे बालों से तौबा कर ली। पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने एक क्रिकेट मैच के अंत में धौनी के बालों की तारीफ भी की थी और उन्हें अपने बाल न कटाने की सलाह तक दे डाली थी।

31. अपने दोस्त जॉन अब्राहम की तरह धौनी को भी बाइकों का शौक रहा है। जैसे-जैसे कमाई बढ़ती गई, धौनी का बाइक कलेक्शन भी बढ़ता गया। कुछ खबरों के मुताबिक आज धौनी तकरीबन दो दर्जन बाइकों के मालिक हैं। जिसमें हेलकैट, हार्ले डेविडसन जैसे महंगी बाइकों के साथ-साथ उनकी सबसे पुरानी व पहली बाइक भी उनके साथ है।

32. धौनी 6 फरवरी 2015 को पिता बने। साक्षी ने एक बेटी को जन्म दिया जिसका नाम उन्होंने जीवा रखा है।

33. क्रिकेट के अलावा धौनी व्यापार की दुनिया में भी सक्रिय रहे हैं। धौनी हॉकी इंडिया लीग में खेलने वाली टीम रांची रेज के सह-मालिक हैं। इंडियन सुपर लीग में वो चेन्नईयिन फुटबॉल क्लब के सह-मालिक हैं। इसके अलावा बाइक रेसिंग की दुनिया में भी उन्होंने कदम रखा और अभिनेता नागार्जुन के साथ सुपस्पोर्ट विश्व चैंपियनशिप में टीम खरीदी जिसका नाम माही रेसिंग टीम इंडिया रखा गया। 

34. धौनी अपने इस पूरे सफर के दौरान कई अवॉर्ड भी जीतते आए हैं। उन्हें 2007-08 में सरकार ने राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया। वहीं, क्रिकेट की दुनिया में उन्होंने 2008 और 2009 में आइसीसी वनडे प्लेयर ऑफ द इयर और 2013 में एलजी पीपल्स चॉइस अवॉर्ड भी जीता। इसके अलावा 2008 से 2014 तक लगातार सात सालों तक वो आइसीसी वनडे टीम में शामिल रहे, जबकि 2009, 2010 और 2013 में आइसीसी वर्ल्ड टेस्ट इलेवन में शामिल रहे। अगस्त 2011 में इंग्लैंड के लेस्टर में स्थित प्रतिष्ठित डी मोंटफोर्ट यूनिवर्सिटी उन्हें मानद उपाधि से सम्मानित कर चुकी है। वहीं, उसी साल नवंबर में उन्हें भारतीय प्रादेशिक सेना में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल बनाया गया।

35. सातवें महीने की सातवीं तारीख में जन्म लेने वाले धौनी का 7 नंबर से जुड़ाव हमेशा से रहा है। वो इसे अपना लकी नंबर मानते आए हैं। भारतीय टीम हो या आइपीएल की टीम, हर जगह उनका जर्सी नंबर.7 ही रहा है। उनके बल्ले और हेल्मेट से लेकर कीपिंग ग्लव्स तक हर जगह ये नंबर लिखा देखा जा सकता है। उनकी ज्यादातर गाड़ियों व बाइकों में भी यही नंबर छाया हुआ है। 

36. अपने इस स्वर्णिम सफर के दौरान धौनी कई बार विवादों और आलोचनाओं के बीच भी नजर आए। 2013 में उन पर हितों के टकराव का आरोप लगा, दावों के मुताबिक रिति स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में धौनी की हिस्सेदारी थी। सीनियर खिलाड़ियों के टीम से बाहर होने को लेकर भी उन्हें घेरा गया। इसके अलावा युवराज सिंह के पिता योगराज सिंह ने धौनी को उनके बेटे के ढलते करियर का जिम्मेदार बताया और काफी आलोचना की। वहीं, 2013 के आइपीएल स्पॉट फिक्सिंग कांड में जब उनकी टीम चेन्नई सुपरकिंग्स और टीम के मालिक एन.श्रीनिवासन विवादों में घिरे तो धौनी का नाम भी इसमें घसीटा गया। वहीं, एक मैगजीन के कवर पेज पर भगवान विष्णु के रूप में धौनी का दिखना भी विवादों का कारण बना और मामला अदालत तक जा पहुंचा था। 

October 24, 2018 , ,
कैप्टन कूल कहे जाने वाले महेंद्र सिंह धोनी टीम इंडिया के सबसे सफलतम कप्तान माने जाते हैं। एम एस धोनी का ये 36वां जन्मदिन है। इस हफ्ते धोनी की शादी की सालगिरह भी थी।

Birthday Special journey from Mahendra Singh Dhoni Ticket Collector2004 से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखने वाले माही आज किकेट की बुलंदियों पर है। 7 जुलाई 1981 को जन्मे धोनी के लिए यह जन्मदिन इसलिए भी बहुत खास है, क्योंकि इस बार उनके साथ उनकी बेटी जीवा भी हैं।

कुछ सालों पहले महज 300 रुपए के लिए काम करने वाले धोनी पर आज करोड़ों की बरसात होती है। हर बड़ा ब्रांड उनके लिए लाइन लगाए खड़ा रहता है, लेकिन आसमान की इस ऊंचाई पर पहुंचने के लिए धोनी को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

एक छोटे शहर की गलियों में क्रिकेट खेलने वाले धोनी कैसे आज इस मुकाम पर पहुंचे इसकी कहानी बेहद दिलचस्प है।

महेंद्र सिंह धोनी का बचपन

महेंद्र सिंह धोनी का जन्म 7 जुलाई 1981 को झारखंड के रांची में हुआ था, उनके पिता का नाम पान सिंह और मां का नाम देवकी देवी है, धोनी की एक बहन जयंती और एक भाई नरेंद्र भी है।

धोनी के परिजनों ने कभी सोचा भी नहीं था, कि उनका बेटा एक दिन पूरी दुनिया में उनका और अपने देश का नाम रौशन करेगा। धोनी की पढ़ाई रांची के जवाहर विद्यालय में हुई, इसी स्कूल में सबसे पहले धोनी ने क्रिकेट का बल्ला भी थामा था।

टिकट कलेक्टर की नौकरी

धोनी ने पहली बार 18 साल की उम्र में रणजी मैच खेला था, धोनी बिहार रणजी टीम की तरफ से खेलते थे, इसी दौरान रेलवे में बतौर टिकट कलेक्टर धोनी की नौकरी भी लग गई और उनकी पहली पोस्टिंग पश्चिम बंगाल के खड़गपुर में हुई थी।

2001 से 2003 तक धोनी खड़गपुर के स्टेडियम में क्रिकेट खेला करते थे, 22 साल की उम्र में धोनी रेलवे की नौकरी करने खड़गपुर पहुंचे, लेकिन धोनी को ये नौकरी रास नहीं आई।

धोनी को तो कुछ और ही करना था, यही वजह थी कि खड़गपुर में धोनी ने क्रिकेट की अपनी एक नई दुनिया बसा ली, धोनी वहां रेलवे की टीम के लिए खेला करते थे।

धोनी के बारे में कुछ दिलचस्प बातें

* अपने स्कूली दिनों में धोनी स्कूल की फुटबॉल टीम में बतौर गोलकीपर खेला करते थे।

* 1998 में महेंद्र सिंह धोनी को सेंट्रल कोल लिमिटेड (सीसीएल) ने अपनी टीम में शामिल किया।

* सीसीएल की ओर से तब उन्हें 2200 रुपए महीने स्टाइपेंड दिया जाता था।

* उनकी यह सैलरी दूसरे प्‍लयर्स से 200 रुपए ज्यादा थी, क्योंकि उन्हें मैचविनर प्लेयर माना जाता था।

* महेंद्र सिंह धोनी मोटर साइकल/बाइक्स के दीवाने/शौकीन हैं।

* टीम इंडिया को आईसीसी के तीनों बड़े खिताब दिलाने वाले अकेले कप्‍तान हैं।

* महेंद्र सिंह धौनी के पसंदीदा अभिनेता अमिताभ बच्चन हैं। वे उनकी एक्टिंग के प्रशंसक रहे हैं और उनकी लगभग सभी हिट फिल्में देखीं हैं. वहीं उन्हें लता मंगेशसकर के गाने बहुत पसंद है।

* महेंद्र सिंह धौनी का जन्म वर्ष 1981 में सात जुलाई को हुआ था। विशेष बात यह है कि उनकी जन्मतिथि तो सात है ही, जुलाई का महीना भी वर्ष का सातवां महीना है। वहीं उनकी जर्सी भी नंबर सात ही है।

नई दिल्ली: चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव भारत के लिए वन-डे खेलने वाले 217वें खिलाड़ी बन गए हैं. कुलदीप यादव को वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन के क्वींस पार्क ओवल में खेले गए पहले वन-डे में पदार्पण का मौका मिला. 22 वर्षीय कुलदीप यादव को इस साल मार्च में धर्मशाला में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट करियर शुरू करने का मौका मिला था. कुलदीप ने इंटरनेशनल क्रिकेट में अपना आगाज धमाकेदार तरीके से किया था. पहली पारी में ही उन्होंने डेविड वॉर्नर, शॉन मार्श, पीटर हैंडस्कोम्ब और मैक्सवेल को आउट कर ऑस्ट्रेलियाई टीम को चारों खाने चित कर दिया था. हालांकि, पदार्पण टेस्ट के विपरीत पदार्पण वनडे में कुलदीप यादव को बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में ही करिश्मा दिखाने का मौका नहीं मिला. वन-डे खेलने वाला 217वां प्लेयर: न बैटिंग का मिला मौका, ना बॉलिंग का

पोर्ट ऑफ स्पेन के क्वींस पार्क ओवल में खेले गए मैच की बारिश के कारण एक भी पारी पूरी नहीं हो सकी. विंडीज के कप्तान जेसन होल्डर ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का फैसला किया. टीम इंडिया ने 39.2 ओवर में 3 विकेट पर 199 रन बना लिए कि बारिश आ गई, जो निर्धारित समय तक में नहीं रुकी. अंत में मैच रेफरी और अंपायरों ने खेल रद्द करने का निर्णय ले लिया. विराट कोहली (31) और एमएस धोनी (9) क्रीज पर हैं. शिखर धवन ने 87 रन (92 गेंद, 8 चौके, 2 छक्के) ठोके. अजिंक्य रहाणे ने 78 गेंदों में 62 रन (8 चौके) बनाए. रहाणे ने चौका और शिखर धवन ने छक्‍का लगाकर अर्धशतक पूरा किया. धवन-रहाणे के बीच पहले विकेट के लिए 132 रनों की साझेदारी हुई, जबकि धवन-कोहली ने दूसरे विकेट के लिए 36 रन जोड़े. युवराज सिंह चार रन ही बना पाए. जेसन होल्डर, अल्जारी जोसेफ और देवेंद्र बिशू ने एक-एक विकेट लिया. (लाइव स्कोरकार्ड)


21 से 39.2 ओवर : धवन शतक से चूके, रहाणे की भी फिफ्टी, मैच रद्द



21वें ओवर में अंतिम गेंद पर चौका लगाकर रहाणे ने फिफ्टी पूरी की. ओवर में आठ रन बने. 23वें ओवर में जोसेफ को छक्का जड़ते हुए फिफ्टी बनाई. ओवर में 13 रन बने. 24वें ओवर में नौ रन बने. 25वें ओवर में अल्जारी जोसेफ ने अजिंक्य रहाणे (62 रन, 78 गेंद, 8 चौके) को होल्डर से कैच करा दिया. 26वें और 27वें ओवर में 15 रन बने, जिसमें धवन का एक छक्का भी शामिल रहा. 28वें और 29वें ओवर में नौ रन बने. 30वें और 31वें ओवर में 10 रन बने. 32वें ओवर में देवेंद्र बिशू ने जमकर खेल रहे शिखर धवन को 87 रन (92 गेंद) को पगबाधा आउट कर दिया. 33वें और 34वें ओवर में कुल छह रन बने. 35वें और 36वें ओवर में 10 रन बने. 37वें ओवर में होल्डर ने युवराज को चार रन पर ईविन लेविस से कैच करा दिया. 37वें और 38वें ओवर में पांच रन बने. 38वां ओवर खत्म होते ही बारिश आ गई और खेल रोकना पड़ा. काफी देर बाद खेल फिर शुरू हुआ. 39वें ओवर में एमएस धोनी के चौके से सात रन आए. 40वें ओवर में दो गेंद बाद ही फिर बारिश आ गई, जो नहीं रुकी और मैच रद्द हो गया.

बचे हुए मैचों का शेड्यूल

दूसरा वनडे : 25 जून, रविवार, पोर्ट ऑफ स्पेन, शाम 6:30 बजे
तीसरा वनडे : 30 जून, नॉर्थ साउंड, एंटीगुआ, शाम 6:30 बजे
चौथा वनडे : 2 जुलाई, नॉर्थ साउंड, एंटीगुआ, शाम 6:30 बजे
पांचवां वनडे : 6 जुलाई, सबीना पार्क, जमैका, शाम 7:30 बजे
एकमात्र टी-20 : 9 जुलाई, सबीना पार्क, जमैका, रात 9:00 बजे

April 08, 2018 , ,
How to watch IPL 2018 live in the US and Canada
Indian Premier League (IPL) is back. IPL 2018 is off to a thrilling start with the inaugural match played between defending champions Mumbai Indians and Chennai Super Kings at Wankhede stadium in Mumbai on Saturday April 7. IPL fans in the US and Canada too can be part of this biggest Indian cricket extravaganza, thanks to Willow TV.
This means that Indian cricket fans in the US and Canada can watch IPL 2018 live on Willow TV. A dedicated live cricket channel in the US and Canada, Willow is available on Dish, Spectrum, Verizon Fios, Xfinity, Frontier, Optimum, Google Fiber and Century Link in the US.
Customers of these providers who subscribe to Willow TV can also watch IPL 2018 online using their TV provider's login and password on www.willow.tv. The www.willow.tv is one of the world's leading portal for live streaming of cricket events. Users can also take monthly subscription of Willow TV directly on its website. IPL cricket fans in these countries can also check the complete IPL schedule on http://cricket.willow.tv. Willow TV also has both Apple iOS and Android OS apps.
There's also an app for Apple TV. Willow offers several hundred days of live cricket covered annually. Willow has exclusive agreements to be the official broadcaster of The International Cricket Council (ICC), The Board of Control for Cricket in India (BCCI), The Cricket Australia, Cricket South Africa, West Indies Cricket Board, Sri Lanka Cricket, Bangladesh Cricket Board, Pakistan Cricket Board, Zimbabwe Cricket and others.
The channel is available on most Satellite and Cable Networks for a simple monthly subscription fee or as part of Sports Packages or South Asian packages. IPL 2018 will go on for seven-plus weeks with final scheduled for May 27. There are eight teams participating in this year's edition of IPL. These include Delhi Daredevils, Chennai Super Kings, Kolkata Knight Riders, Royal Challengers Bangalore, Kings XI Punjab, Mumbai Indians, Rajasthan Royals and Sun Risers Hyderabad.

Virat Kohli born 5 November 1988) is an Indian international cricketer who currently captains the India national team. A right-handed batsman, often regarded as one of the best batsmen in the world, Kohli is ranked as one of world's most famous athletes by ESPN and one of the most valuable athlete brands by Forbes. He plays for the Royal Challengers Bangalore in the Indian Premier League (IPL), and has been the team's captain since 2013. Born and raised in Delhi, Kohli represented the city's cricket team at various age-group levels before making his first-class debut in 2006. 
He captained India Under-19s to victory at the 2008 Under-19 World Cup in Malaysia, and a few months later, made his ODI debut for India against Sri Lanka at the age of 19. Initially having played as a reserve batsman in the Indian team, he soon established himself as a regular in the ODI middle-order and was part of the squad that won the 2011 World Cup. He made his Test debut in 2011 and shrugged off the tag of "ODI specialist" by 2013 with Test hundreds in Australia and South Africa. Having reached the number one spot in the ICC rankings for ODI batsmen for the first time in 2013, Kohli also found success in the Twenty20 format, winning the Man of the Tournament twice at the ICC World Twenty20 (in 2014 and 2016). In 2014, he became the top-ranked T20I batsman in the ICC rankings and holds the position, as of December 2017. Since October 2017, he has also been the top-ranked ODI batsman in the world.













Anushka Sharma And Virat Kohli Are Married
Virat Kohli confirms marriage with Anushka Sharma in a tweet, see pics : Virat Kohli and Anushka Sharma tied the knot in Italy on December 11 in a private ceremony. After a long speculation of will they-won’t they, Anushka Sharma and Virat Kohli have finally tied the knot in Italy on December 11. In what seems to be a rest to all rumours, fanpages have released a selfie of the much-talked about couple on Instagram, right from their wedding. While Virat looks dapper as always in his ivory sherwani, Anushka is the most beautiful bride ever in her beige coloured lehenga. Yes, they did - after days of will they-won't they. Actress Anushka Sharma and cricketer Virat Kohli married in Italy over the weekend.
A tweet posted on Anushka's official account read: "Today we have promised each other to be bound in love forever. We are truly blessed to share the news with you. This beautiful day will be made more special with the love and support of our family of fans & well wishers. Thank you for being such an important part of our journey." Congratulations, Anushka and Virat. The wedding venue was a countryside resort in Tuscany where security had been massively stepped up for the nuptials. Entry to the resort was strictly by invitation. A video of what appeared to be wedding preparations being made at the resort went viral over the weekend.
Last week, the Internet exploded with rumours that Anushka Sharma and Virat Kohli had a hush-hush wedding in Italy planned - the actress' spokesperson said there was 'no truth' to the reports and continued to deny the wedding rumours, right up until Anushka Sharma was photographed at Mumbai airport with her parents and brother Karnesh on Thursday night. They were believed to be flying to Italy via Switzerland - the entourage was reported to include a priest. Despite denials, Anushka's father was reported to have invited neighbours from his Versova apartment block to the wedding. Designer Sabyasachi Mukherjee was reportedly in charge of the bride's wardrobe.
Rumours that Anushka and Virat, both 29, were already married were prompted a tweet posted by a sports journalist over the weekend. However, conflicting reports on Monday suggested that the wedding was scheduled for later this week and that Shah Rukh Khan, Aamir Khan, Sachin Tendulkar and Yuvraj Singh would attend. A wedding reception has reportedly been planned in Mumbai later this month. Anushka Sharma and Virat Kohli have been dating for several years after meeting on the sets of a commercial. They often post messages to each other on social media and are pictured attending social events together. They were last spotted at cricketer Zaheer Khan's wedding to actress Sagarika Charge. Virat Kohli and Anushka Sharma officially announced their marriage from Italy on Monday.
It had been long speculated that India cricket team captain and Bollywood actress will tie the knot but no date was confirmed by the couple. However, the official announcement was made on Monday. The two tied the knot in Italy. A TV channel also reported that a reception will be held in New Delhi on December 21 Kohli had request the Board of Control for Cricket in India for a break from international cricket and was given rest from the upcoming limited-overs series against Sri Lanka which will be played in India. He will not feature in the ODI and T20I series against Sri Lanka which began on December on 10 and will finish on December 23.

July 21, 2017 , ,
हरमनप्रीत ने सेमीफाइनल में छुड़ाए कंगारुओं के छक्के, बनाए ये 8 रिकॉर्ड...भारतीय महिला क्रिकेट टीम का हरफनमौला खिलाड़ी हरमनप्रीत कौर ने गुरुवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ नाबाद 171 रन की पारी खेलकर सबका मन मोह लिया। हरमनप्रीत ने 115 गेंदों में 171 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 20 चौके और 7 गगनचुंबी छक्के भी जड़े। पारी के दौरान हरमनप्रीत का स्ट्राइक रेट 148.69 का रहा। उनकी इस धमाकेदार पारी की बदौलत ही टीम इंडिया डिफेंडिंग चैंपियन के सामने जीत के लिए 282 रन का लक्ष्य रख सकी। अपनी इस पारी के दौरान हरमन ने न केवल महिला क्रिकेट के बल्कि पुरुषों की क्रिकेट के कुछ रिकॉर्ड्स को चुनौती दे डाली। आईए उन रिकॉर्ड्स पर नजर डालें जिन्हें हरमनप्रीत ने अपने नाम किए।

महिला क्रिकेट की पांचवीं सबसे बड़ी पारी
हरमनप्रीत का 171 रन की नाबाद पारी महिला वनडे क्रिकेट की पांचवीं सबसे बड़ी पारी है। महिला क्रिकेट की सबसे बड़ी बड़ी पारी ऑस्ट्रेलिया की बेलिंडा क्लार्क के नाम दर्ज है। उन्होंने साल 1997 में नाबाद 229 रन बनाए थे। इसके बाद दूसरी सबसे बड़ी पारी भारत की दीप्ति शर्मा(188), तीसरी श्रीलंका की चमारी अटापट्टू(178) और चौथी इंग्लैंड की चार्लोट एडवर्ड्स(188) के नाम दर्ज है। 

मौजूदा विश्वकप की दूसरी बड़ी पारी 
हरमनप्रीत की पारी मौजूदा विश्वकप की रनों के लिहाज से दूसरी सबसे बड़ी पारी है। इसी विश्वकप के दौरान श्रीलंका की चमारी अटापट्टू ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लीग मैच के दौरान नाबाद 178 रन बनाए थे। वह इस रिकॉर्ड की बराबरी करने से 7 रन से चूक गईं।   

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरी बड़ी पारी 
ऑस्ट्रेलियाई महिला टीम के खिलाफ सबसे ज्यादा रन बनाने वाली दुनिया की दूसरी खिलाड़ी बनने का रिकॉर्ड भी हरमन ने अपने नाम किया। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हरमन से ज्यादा रन श्रीलंका की चमारी अटापट्टू(178) ने बनाए हैं। इस सूची में तीसरे नंबर पर न्यूजीलैंड की कप्तान सूजी बेट्स हैं। बेट्स ने साल 2012 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ नाबाद 122 रन बनाए थे। 

नॉकआउट इंटरनेश्नल में  सबसे बड़ी पारी(मेल और फीमेल)   
अपनी इस धुआंधार पारी के साथ ही हरमनप्रीत ने किसी भी नॉक आउट इंटरनेशनल मैच में सर्वाधिक व्यकितगत स्कोर बनाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया। हरमनप्रीत से पहले ऐसा कारनामा करने वाले खिलाड़ियों में पुरुष क्रिकेट के तीन खिलाड़ी हैं। इनमें मार्टिन गप्टिल(237), सनथ जयसूर्या(189) और मार्क वा(173) का नाम शामिल है।

नॉक ऑउट में 150+ पारी खेलने वाली पहली भारतीय 
किसी वनडे नॉकआउट में 150 रन से ज्यादा की पारी खेलने वाली हरमनप्रीत पहली भारतीय बल्लेबाज है। पुरुष खिलाड़ी भी आज तक इस मुकाम पर नहीं पहुंच पाए हैं। विश्व में अबतक केवल 6 खिलाड़ी यह कारनामा कर पाए हैं।

नॉकऑउट दौर में किसी भारतीय की सबसे बड़ी पारी 
इस पारी से पहले नॉकआउट मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड कप्तान मिताली राज के नाम दर्ज था। मिताली ने साल 2006 में एशिया कप के फाइनल में नाबाद 108 रन बनाए थे। 

महिला विश्वकप में भारतीय की सबसे बड़ी पारी 
महिला विश्वकप में किसी भारतीय द्वारा खेली गई सबसे लंबी पारी का रिकॉर्ड अब हरमन के नाम दर्ज हो गया है। इससे पहले महिला विश्वकप में भारतीय द्वारा खेली गई सबसे बड़ी पारी का रिकॉर्ड मिताली राज के नाम दर्ज था। मिताली ने इसी विश्वकप में आखिरी लीग मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ 109 रन की पारी खेली थी। 

नॉक आउट दौर में शतक बनाने वाली दूसरी दुनिया की दूसरी खिलाड़ी 
हरमनप्रीत महिला विश्वकप के नॉकआउट दौर में शतक बनाने वाली दूसरी खिलाड़ी हैं। उनसे पहले साल 2005 के विश्वकप के फाइनल में केरन राल्टन ने नाबाद 107 रन बनाए थे। 

July 15, 2017 , ,
Hunger for scoring runs never dies, says Mithali RajThe Indian eves, courtesy of a brilliant hundred by skipper Mithali Raj and a brilliant bowling performance by Rajeshwari Gaekwad, won the match by 186 runs.

The Indian women’s team delivered a comprehensive performance against New Zealand in the group stage to secure a much-needed win on Saturday. The Indian eves, courtesy of a brilliant hundred by skipper Mithali Raj and a brilliant bowling performance by Rajeshwari Gaekwad, won the match by 186 runs.

ICC Women's World Cup 2017: Mithali Raj Hits Fine Century vs New Zealand
There seems to be no stopping India captain Mithali Raj. On Saturday against New Zealand in the ICC Women's World Cup 2017 match at Derby, Mithali smashed her sixth ODI century. She also brought up her 50th half-century, the first woman to register the 50th score in the fifties in women's ODI history. She had created history to become the leading run-scorer in women's One Day International cricket during the last match against Australia. Mithali had gone past Englishwoman Charlotte Edwards' record of 5992 runs and also became the first woman cricketer to touch the 6000-run mark.
There are too many records against her name. Earlier she achieved the feat of scoring seven consecutive fifties in ODIs after she played a terrific knock against England in the World Cup. Before her 50th half-ton on Saturday, she had notched the maximum number of ODI half-centuries (49) by any woman cricketer.
An elated Mithali Raj spoke after the match and said, “I’m extremely happy because, for a couple of us, this is going to be the last World Cup. So, our first aim was to qualify for the semis. I have always been happy to score runs for the country. I’ve always dreamed getting more and more runs because the hunger never dies. I think there were two important and crucial partnerships. One with Harmanpreet and the other with Veda. Her contribution was really very crucial. When you’re chasing 250 plus there is always pressure.”

Virat Kohli Congratulates Mithali Raj With An Image Of Punam Raut
Virat Kohli is a known admirer of the Indian women's cricket team. He had even wished the team before the start of the ICC Women's World Cup, being held in England. So it came as a massive surprise when Kohli committed a major blunder while congratulating women's captain Mithali Raj for becoming the highest run-getter in ODI cricket. Mithali created history when she shattered the record of most runs by an individual player in women's ODIs on Wednesday. Wishes came pouring in for the Indian star and among the well-wishers was a certain Virat Kohli, who posted a message for Mithali on Facebook. However, the Men in Blue captain mistakenly used Punam Raut's picture in the post. Kohli, though, was quick to realise his mistake and deleted the post soon after.
Lauding the efforts of the bowlers, she added, “I think the bowlers did a great job. If you’re aiming to be in the top 4 teams in the world, it is very important that you come back strong after a couple of defeats. It was important for the girls to come back strong, all firing.”

Meanwhile, Rajeshwari Gaekwad also expressed happiness over her performance and said, “I was happy that the team is winning. Not upset because I didn’t get a game so far. Got my chance today and happy that I delivered. I have been doing normal stuff, just trying to stick to my strengths. It was fun carrying drinks all along thus far. This is the best performance of my career. I always got four-fers, but never a fifer. So I would rate this as my best.”

July 14, 2017 , , ,
SBI to cut NEFT, RTGS charges by up to 75%The reduced charges will be applicable on the transactions done through internet banking (INB) and mobile banking (MB) services offered by the bank, bank sources said.
The reduced charges will make transactions done through bank's internet banking and mobile banking cheaper
New Delhi : In a push to digital payments, state-owned lender SBI will cut charges on electronic transfer of funds through NEFT and RTGS by up to 75 per cent from Saturday, benefiting nearly 5.27 crore customers, a release said on Thursday.

“The reduced charges will be applicable on the transactions done through internet banking (INB) and mobile banking (MB) services offered by the bank,” it said while releasing the revised NEFT and RTGS charges from July 15.
A day after it waived charges on Immediate Payment System (IMPS) transactions of up to Rs 1,000, State Bank of India (SBI) on Thursday lowered transaction charges on transfers made through the National Electronic Funds Transfer (NEFT) and Real Time Gross Settlement (RTGS) channels.
As per the revised schedule, the NEFT charges on fund transfer up to Rs 10,000 has been halved to Re 1, and to Rs 2 for up to Rs 1 lakh. For transfers between Rs 1 lakh and Rs 2 lakh, the NEFT charge will be reduced to Rs 3 from the existing Rs 12.

The charge above Rs 2 lakh has been fixed at Rs 5 as against the current Rs 20. For RTGS transactions, the charges will be Rs 5 for transactions between Rs 2 lakh and Rs 5 lakh.
NEFT transactions of up to Rs 10,000 will now attract a charge of Rs 1, transactions between Rs 1,001 and Rs 1 lakh will be charged at Rs 2, those between Rs 1 lakh and Rs 2 lakh will be charged Rs 3, while transactions involving higher amounts will be charged Rs 5. Earlier, these charges were Rs 2, Rs 4, Rs 12 and Rs 20, respectively.
Currently, the bank charges Rs 20 for such transaction. If a customer transfers more than Rs 5 lakh through the RTGS channel, he will be charged Rs 10 as against Rs 40 currently.

There are different charges if the fund transfers are made in bank branches through executives.

 All the new charges will attract GST rate of 18 per cent. The country’s largest lender has also waived charges for fund transfer of up to Rs 1,000 done through Immediate Payment Service (IMPS).
RTGS transactions of between Rs 2 lakh and Rs 5 lakh will now be charged Rs 5, as against Rs 20 earlier, and those involving higher amounts will be charged Rs 10, down from Rs 40 earlier. The new charges, which are exclusive of the Goods and Services Tax (GST), will come into effect on Saturday. They will be applicable only to transfers made through internet or mobile banking.
“In sync with our strategy and complementing the focus of Government of India to create a digital economy, we have taken one more step to promote use of internet banking and mobile banking for doing NEFT and RTGS transactions by reduction of the charges,” said Rajnish Kumar, Managing Director, State Bank of India.

At March-end, SBI had 3.27 crore Internet Banking customers and nearly 2 crore Mobile Banking customers.

SBI Ecowrap, the bank's research unit, said, "If demonetization had not happened, it would have taken three years more for credit and debit cards transactions on point of sales (PoS) terminals to reach the current level of Rs 70,000 crore (assuming a yearly growth rate of 25%). We believe that increasing number of PoS terminals (post demonetization, banks have been able to set-up 11.8 lakh extra PoS terminals) and ease of doing digital transaction will increase this level further. Similar trends are observed in the case of usage of pre-paid instruments (include m-wallet, PPI cards and paper vouchers) and mobile banking, too. PPI witnessed a sharp growth with transactions value worth Rs 10700 crore in May 2017 compared with Rs 5,100 crore in November 2016.

SBI is one of the top 50 global banks and the largest commercial bank in India in terms of assets, deposits, profits, branches, customers and employees. The company had deposit base of Rs 25.85 lakh crore as on March 31 this year.

July 10, 2017 , ,
India vs West Indies T20टीम इंडिया के लिए वेस्टइंडीज दौरे का समापन अच्छा नहीं रहा, क्योंकि उसे सीरीज के एकमात्र टी-20 में विंडीज ने रविवार को बुरी तरह हरा दिया. विंडीज के ओपनर एविन लेविस (125 रन, 62 गेंद, 6 चौके, 12 छक्के) ने अकेले दम पर मैच को अपनी टीम की झोली में डाल दिया. किंग्सटन के सबीना पार्क स्टेडियम में सीरीज का एकमात्र मुकाबला खेला गया, जिसमें विंडीज कप्तान कार्लोस ब्रैथवेट ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का फैसला किया. टीम इंडिया में पहले बैटिंग करते हुए 20 ओवर में 6 विकेट पर 190 रन बनाए. जवाब में विंडीज टीम ने 18.3 ओवर में 1 विकेट पर 194 रन बना लिए. एविन लेविस (125 रन) और मर्लन सैमुअल्स (36) नाबाद लौटे. लेविस ने 25 गेंदों में फिफ्टी बनाई, जबकि 53 गेंदों में शतक पूरा किया. टीम इंडिया के लिए दो गलतियां भारी पड़ीं. पहले मोहम्मद शमी और विराट कोहली की भिड़ंत के कारण 47 रन पर उनको जीवनदान मिला. फिर 55 के निजी स्कोर पर उनको एक और जीवनदान मिला, जब दिनेश कार्तिक ने कैच टपकाया. इस बार भी भी विराट कोहली कैच लेने के लिए दौड़े थे और कार्तिक ने गलतफहमी में कैच छोड़ दिया. इसके बाद लेविस ने कोई मौका नहीं दिया और जिताकर ही लौटे. क्रिस गेल ने 18 रन बनाए. डेब्यू मैच खेल रहे कुलदीप यादव ने गेल को करियर का पहला शिकार बनाया, लेकिन इसके बाद कोई विकेट नहीं ले सके.

किसी भी क्रम में बल्लेबाजी कर सकता हूँ : कोहली
खुद कोहली का भी मानना है कि श्रीलंका में मिली कामयाबी कि एक वजह यह भी रही कि जरूरत के हिसाब से खिलाड़ियों की बैटिंग पोजिशन तय की गई। वह कहते हैं कि ये फॉर्मूला उन पर भी उतना ही लागू होता है और जरूरत पड़ी तो वह ओपनिंग के लिए भी तैयार हैं। कोहली ने कहा हैं कि , "टेस्ट में मैं अलग-अलग बैटिंग पोजिशन पर बल्लेबाजी करता दिख सकता हूं। जरूरत पड़ी तो ओपनिंग भी कर सकता हूं। टेस्ट में अपनी बैटिंग पोजिशन के बारे में वह यकीन के साथ नहीं कह सकते, लेकिन वनडे में उन्हें नंबर 3 पर बल्लेबाजी करना बेहद पसंद है।" कोहली ने आगे कहा "मैंने वनडे में लंबे समय तक नंबर 3 पर बल्लेबाजी की है। वहां मुझे अंदाजा होता है कि किस हिसाब से बल्लेबाजी करनी है, लेकिन टेस्ट में सचिन पाजी के रियाटर होने के बाद मुझे 4 नंबर दे दिया गया। पुजारा नंबर 3 पर अपनी जगह बना चुके थे।" 
भारत को श्रीलंका में मिली जीत के पीछे टीम इंडिया के टेस्ट कप्तान विराट कोहली का बहुत बड़ा हाथ था. उनकी कप्तानी में भारत ने श्रीलंका में जीत के 22 सालों के सूखे को खत्म किया. उनकी कप्तानी की एक ख़ास बात यह रही कि उन्होंने टीम की ज़रूरत के हिसाब से बल्लेबाजी क्रम में फेर-बदल किए. फिर बात चाहे अजिंक्य रहाणे को नंबर 3 पर बल्लेबाजी करने का निर्णय हो या फिर रोहित शर्मा को नंबर 5 पर खिलाने का. इन सब प्रयोग के पीछे कप्तान कोहली का बहुत बड़ा हाथ था.
किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी कर सकता हूं: अजिंक्य रहाणे
भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार बल्लेबाज़ अजिंक्य रहाणे ने हाल ही में बड़ी प्रतिक्रिया ज़ाहिर की है। उन्होंने कहा कि वह किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी करने के लिए तैयार हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ पांच मैचों की एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सीरीज में सलामी बल्लेबाज़ के रूप में शानदार बल्लेबाजी करने वाले अजिंक्य रहाणे ने यह भी माना कि हाल ही में संपन्न सीरीज में उनका आत्मविश्वास बढ़ा है। 
गौरतलब है कि वेस्टइंडीज के खिलाफ हाल ही में संपन्न पांच मैचों की एकदिवसीय सीरीज में अजिंक्य रहाणे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबोंजोंकी कतार सबसे आगे रहे हैं, वहीँ भारतीय टीम ने इंडीज को उसी की धरती पर 3-1 से पराजित किया। आज टीम इंडिया वेस्टइंडीज के खिलाफ एकमात्र टी20 मुकाबला खेलने उतरेगी, वहीं वेस्टइंडीज की टीम में धाकड़ बल्लेबाज़ क्रिस गेल की लगभग 15 महीने बाद वापसी हुई है। गेल को टी20 क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक माना जाता है। उनके आने से वेस्टइंडीज टीम मजबूत हुई है। 
रहाणे का मानना है कि आपको पिच के हालात के अनुसार बल्लेबाजी करनी होती है जैसे कि उन्होंने यहां वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे एकदिवसीय मैच के दौरान किया. रहाणे ने कहा कि जब वह अंतिम एकादश में शामिल नहीं थे तो उन्होंने इस समय का इस्तेमाल अपनी फिटनेस में सुधार के लिए किया जो कैरेबियाई सरजमीं के उमस भरे माहौल में काफी काम आ रहा है.
अजिंक्य रहाणे ने पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए कहा, "वेस्टइंडीज के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज शानदार रही। आगे भी बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करता हूं। इससे मेरा आत्मविश्वास बढ़ा है। मैं अपनी टीम के लिए किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी करने को तैयार हूं। मैं इसके लिए पूरी तरह तैयार हूं। मैं वनडे और टी20 क्रिकेट में अपना ध्यान आगे भी केन्द्रित करना चाहता हूं। सीमित ओवरों के क्रिकेट में मैं और अच्छा निखार लाना चाहता हूं। उन्होंने कहा, "मैं चौथे क्रम पर पहले से ही बल्लेबाजी करता आया हूं। इस लिहाज़ से मुझे अंदाजा है कि मध्य और ऊपरी क्रम में कैसे बल्लेबाजी करनी होती है।"
दोनों टीमों के प्लेइंग 11 इस प्रकार है:
भारत- विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, महेंद्र सिंह धोनी, केदार जाधव, दिनेश कातर्कि, रिषभ पंत, रविंद्र जडेजा, आर अश्विन, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी।

वेस्टइंडीज- कार्लोस ब्रेथवेट (कप्तान), सैमुअल बद्री, क्रिस गेल, एविन लुईस, सुनील नारायण, कीरोन पोलार्ड, रोवमैन पावेल, मार्लोन सैमुअल्स, जेरोम टेलर, चाडविक वाल्टन और केसरिक विलियम्स।

Write Your Comments About This Match

Sourav GangulySourav Ganguly. Ganguly has been one of the most successful captains for India and is known for his leadership qualities. The left-handed batsman made his first Test appearance for India in 1996 against England at Lord's and scored a brilliant hundred during the course.

Sourav Ganguly Indian cricketer

Personal information
Full name Sourav Chandidas Ganguly
Born 8 July 1972 (age 44)
Behala, Calcutta (presently Kolkata), West Bengal, India
Nickname Dada,Prince of Calcutta,God of the Off Side
Height 5 ft 11 in (1.80 m)
Batting style Left-handed
Bowling style Right arm medium
Role Batsman
Part-time all-rounder
Relations Snehasish Ganguly (brother)
Dona Roy (wife)

International information
National side India
Test debut (cap 206) 20 June 1996 v England
Last Test 6 November 2008 v Australia
ODI debut (cap 84) 11 January 1992 v West Indies
Last ODI 15 November 2007 v Pakistan
ODI shirt no. 99, 1, 24, 21

Domestic team information
Years Team
1990–2010 Bengal
2000 Lancashire
2005 Glamorgan
2006 Northamptonshire
2008–10 Kolkata Knight Riders
2011–2012 Pune Warriors India

Former Indian skipper Sourav Ganguly turned 45 on Saturday. On the joyous occasion wishes poured in for The ‘Prince of Kolkata’ from all parts of the country. Social media too buzzing with his birthday wishes. Ganguly has been one of the most successful captains for India and is known for his leadership qualities. The left-handed batsman made his first Test appearance for India in 1996 against England at Lord’s and scored a brilliant hundred in that match. From thereon there was no looking back.

While he stamped authority with his batting, Sourav also played a vital role in the resurgence of Indian cricket. Under him, India registered a berth in the final of Knockout tournament in 2000 and also went into the finals of the 2003 World Cup. Though they lost the final to New Zealand but his leadership skills impressed everybody.  In 2002 Ganguly led his side to a Champions Trophy win.  In 2003 edition of the ICC World Cup Ganguly and his side were runners-up. Meanwhile, here is a look at some of the wishes and what his colleagues and others have to say on his special day:

When he's not busy discussing the Supreme Court-mandated Justice RM Lodha Committee reforms with the general body of the Indian cricket board, he's part of a committee appointed by that general body studying the very reforms. When he's not busy attending the Indian Premier League (IPL) governing council meetings, he's busy running the Cricket Association of Bengal (CAB). When he's not busy chairing the BCCI's technical committee, he's busy selecting the Indian national team's new coach. Say hello to the omnipresent Sourav Ganguly - the busiest man in Indian cricket today.

The list doesn't end. When he's not busy doing any of the above, Ganguly will be found doing commentary for a broadcaster or presenting expert views on television or attending the MCC World Cricket Committee meeting.

"I can also apply for the position of India's coach provided I'm not an administrator," Ganguly recently told the media, when asked to comment on former Team India director Ravi Shastri sending his application for the role.

Less is more certainly doesn't apply to this Indian cricket great who's taken to the administration of the game like the fish takes to water.

In another world, at a different hour, this kind of multi-tasking would've been seen as a matter of accomplishment in Indian cricket administration. But in the prevailing times, the moniker doesn't stick. "We understand that to be a major concern and roles need to be more definitive, largely because a pattern has to be set in the larger context. There's absolutely no disrespect towards Sourav, given his vast experience as a cricketer and a leader in the game. It's the syndrome that we're talking about," two individuals keenly involved with affairs of Indian cricket administration over the last few months told TOI.

Ganguly's former teammate Rahul Dravid is a case in point. In the middle of the hullabaloo over whether Dravid could've continued in the role of India's junior national coach while being a mentor to an IPL franchise, it was he who took the first step in sorting out the confusion. Dravid wrote a letter to the Committee of Administrators (CoA) seeking clarity on his role and, in turn, provided the solution.

July 07, 2017 , ,
MS Dhoni Indian cricketer
Mahendra Singh Dhoni is an Indian cricketer who captained the Indian team in limited-overs formats from September 2007 to 4th of January 2017 and in Test cricket from 2008 to 28th of December 2014.
जन्मदिन विशेष: ये 7 रिकॉर्ड धोनी को सबसे अलग करते हैं!Born: 7 July 1981 (age 35), Ranchi
Height: 1.75 m
Spouse: Sakshi Dhoni (m. 2010)
Awards: Padma Shri, Rajiv Gandhi Khel Ratna
Siblings: Jayanti Gupta, Narendra Singh Dhoni
Parents: Devaki Devi, Pan Singh

रांची की गलियों से निकला एक लड़का देखते ही देखते क्रिकेट की दुनिया का सरताज बन गया. जिसका नाम है महेंद्र सिंह धोनी. दिग्गज भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 7 जुलाई को 36 साल के हो गए हैं. पूरे देश-दुनिया में धोनी के चाहने वाले उनका बर्थडे मना रहे हैं. इस मौके पर हम आपके सामने कुछ ऐसे रिकॉर्ड रखते हैं, जो दर्शाते हैं कि माही सबसे अलग हैं...

1. 7वें नंबर पर बल्लेबाजी कर के दो शतक

करियर की शुरुआत में धोनी ऊपरी क्रम में बैटिंग करते थे, लेकिन जब से कप्तान बने उसके बाद से वे निचले क्रम में खेलने लगे. 7वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए धोनी के नाम सबसे ज्यादा वनडे शतक लगाने का रिकॉर्ड है. उन्होंने इस क्रम पर दो शतक लगाए हैं, एक 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ और दूसरा एशिया इलेवन की ओर से अफ्रीका इलेवन के खिलाफ.

2. छक्कों के सरताज माही

मैदान पर लंबे-लंबे छक्के मारने की क्षमता हमेशा ही धोनी की ताकत रही है. धोनी अभी तक कुल 322 छक्के जड़ चुके हैं. इनमें से 208 छक्के तो वनडे में ही हैं. धोनी वनडे में सबसे ज्यादा छक्के मारने वाले भारतीय हैं.

3. इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा स्टंपिंग

धोनी जितने चतुर बल्लेबाज हैं विकेट के पीछे उनकी फुर्ती भी उतनी ही दिखती है. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में धोनी के नाम 158 स्टंपिंग का रिकॉर्ड है. वहीं अगर कुल शिकार की बात करें, तो धोनी ने अभी तक कुल 732 शिकार किए हैं.

4. विकेटकीपर के तौर पर एक इनिंग में सबसे ज्यादा रन
एक विकेटकीपर के तौर पर एक पारी में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड भी धोनी के नाम हैं. धोनी ने 2005 में जयपुर में श्रीलंका के खिलाफ 183 रन बनाए थे.
5. 76 टी-20, 1200 से ज्यादा रन, मात्र 1 अर्धशतक
तेज बल्लेबाजी करने के लिए जाने जाने वाले धोनी के नाम एक अनोखा रिकॉर्ड भी है. उन्होंने अभी तक कुल 76 टी-20 खेले हैं, जिनमें 1200 से अधिक रन बनाए हैं. पर अर्धशतक सिर्फ एक है. धोनी ने अर्धशतक भी अभी हाल ही में जड़ा था.
6. अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैचों में सबसे ज्यादा जीत
बतौर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नाम कई रिकॉर्ड हैं, जिनमें से एक सबसे ज्यादा टी-20 जीत का है. धोनी ने 33 वनडे में कप्तानी की और 20 मैच जीते. भारत ने वनडे और टेस्ट में भी सबसे ज्यादा मैच धोनी की कप्तानी में ही जीते हैं.
7. विकेटकीपर होने के बावजूद बॉलिंग करने का रिकॉर्ड
ये रिकॉर्ड थोड़ा अनोखा है, विकेटकीपर होने के बावजूद भी धोनी ने अभी तक 9 मैचों में गेंदबाजी की है. इससे पहले भारत की ओर से सैयद किरमानी ने भी 3 बार गेंदबाजी में हाथ आजमाया था.
इसके अलावा भी बतौर कप्तान सभी आईसीसी ट्रॉफी जीतना, भारत को नंबर 1 टीम बनाना, कई मैचों में टीम को हार के मुंह से निकाल कर जीत दिलवाना ऐसे कई कारनामें धोनी के नाम है. हालांकि अब ये शेर बूढ़ा हो चला है, लेकिन अभी भी फैंस की नजरों में धोनी ही सर्वश्रेष्ठ हैं.
हैप्पी बर्थडे महेंद्र सिंह धोनी.

MsnTarGet.com

Satish Kumar

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.